Sunday, October 1, 2017

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, बेटियां है तो कल है.

एक व्यक्ति के द्वारा कहे गए बेहतरीन शब्द.....
"जब मैंने जन्म लिया,वहां 1नारी थी जिसने मुझे थाम लिया......
      
                        || मेरी माँ ||
बचपन में जैसे जैसे मैं बड़ा होता गया 1 नारी वहां मेरा ध्यान रखने और मेरे साथ खेलने के लिए मौजूद थी.....
                  || मेरी बहन ||
जब मैं स्कूल गया 1 नारी ने मुझे पढ़ने और सिखने में मदद की......
                || मेरी शिक्षिका ||
जबभी मै जीवन से निराश और हतास हुवा और जब भी हारा हुवा महसूस किया 1 नारीने मुझे संभाला ...
              || मेरी महिला मित्र ||
जब मुझे सहयोग,साथी और प्रेम की आवश्यकता हुई1 नारी हमेशा मेरे साथ थी..
              || मेरी पत्नि ||
जबभी मै जीवन में कठोर हुवा 1 नारी ने मेरे व्यवहार को नरम कर दिया.....
              ||मेरी बेटी||
जब मैं मरूँगा तब भी 1 नारी मुझे अपने गोद में समा लेगी.......
              || धरती माँ ||
यदि आप पुरुष हैं तो हर नारी का सम्मान करें.....और यदि आप महिला हैं, उन में से 1 होने पर गर्व  करे...

No comments:

Post a Comment

Developed By sarkar